खुशियों का फ़तेह सागर छलका

उदयपुर। संभाग और आसपास के क्षेत्र में अच्छीा बारिश के कारण उदयपुर की झीलों में पानी की आवक लगातार जारी है। सोमवार को फतेहसागर छलक गया गुरुवार को यह नजारा देखने के लिए लाेगाें की भीड़ लगी रही। इससे गुमानिया नाले और आयड़ नदी में बहाव तेज हो गया। फतहसागर का ओवरफ्लो पानी आयड़ के माध्य म से उदयसागर जा रहा है।

fateh sagar overflow 2016

मदार नहर से आ रहे पानी से फतहसागर पर चादर चली हुई है। पानी की लगातार आवक के चलते स्वारूपसागर के दो गेट दो दो फीट खोले हुए हैं। जिले और संभाग में मूसलाधार बारिश के चलते संभाग भर में पानी पानी हो गया है। फतहसागर छलकने की लोगों को सूचना मिलते ही उस ओर दौड़ पड़े। दिन भर से वहां लोगों की खासी भीड़ जमा हो गई। सोशल मीडिया पर सबके प्यारे फतेहसागर के छलकने की तस्वीरे वायरल हो गई ।

पिछोला छलका, फतेहसागर 11 फ़ीट पार छलकने को आतुर

उदयपुर। संभाग और आसपास के क्षेत्र में अच्छीा बारिश के कारण उदयपुर की झीलों में पानी की आवक लगातार जारी है। गुरुवार को पीछोला छलक गया गुरुवार को यह नजारा देखने के लिए पुलिया पर लाेगाें की भीड़ लगी रही। सीसारमा नदी से पांच फीट बहाव जारी रहने से गुरुवार को इसके चारों गेट एक-एक फीट से बढ़ाकर दो-दाे फीट खोल दिए गए। इससे गुमानिया नाले और आयड़ नदी में बहाव तेज हो गया।

lake pichola overflow udaipur

मदार नहर से आ रहे पानी से फतहसागर के जलस्तर में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। वहीं फतहसागर 11 फीट को पार कर पहुंच गया है। उदयसागर में एक ही रात में एक फीट पानी की आवक हुई। मदार बड़ा आठ इंच और छोटा मदार तीन इंच ओवरफ्लो चल रहा है। थूर की पाल पर भी रौनक बनी हुई है।

भारी बारिश के चलते हाई-अलर्ट, नदियां उफान पर

उदयपुर संभाग में पिछले 36 घंटों से हो रही भारी बारिश से सभी जगह पानी ही पानी हो गया है। मेवाड़, मारवाड़ ,वागड़, मेवल और गोडवाड़ क्षेत्र में बारिश ने पिछले तीन दिनों में कहर बरपा दिया है। सभी जिलों में भारी बारिश के चलते हाई अलर्ट जारी कर दिए गए हैं। उदयपुर और आसपास के एक दर्जन से अधिक बड़े बांध ओवरफ्लो चल रहे हैं और चार दर्जन से अधिक छोटे जलाशयों पर भी चादर चल रही है। इस बार की बारिश ने पिछले 20 वर्षों के रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं।

rain in udaipur

साथ ही फ़तेह सागर में स्वरुप सागर लिंक नहर और बड़ा मदार से पानी की आवक जारी है। पिछोला को भरने वाली सीसारमा नदी सात फीट के वेग से बह थी जो अभी 5 फ़ीट चल रही है। पिछोला का जलस्तर साढे आठ फीट के पार कर गया है और फतहसागर में लिंक नहर और मदार दो तरफा आवक होने से इसका जलस्तर करीब 9 फीट हो गया है।

चित्तौडग़ढ़ और भीलवाड़ा और पाली में को बारिश ने कहर बरपाया जिससे कई जगह बाढ़ के हालात हो गई। शहर पानी-पानी हो गया, कई जगह लोग फंस गए तो भीलवाड़ा में भी निचली बस्तियों में पानी भर गया। बाढ के हालात में एनडीआरएफ की टीम को तिलस्वां भेजा गया व सेना को अलर्ट कर दिया गया।

इंजीनियरिंग छात्र ने की आत्महत्या, पूरा कॉलेज स्तब्ध

सेवाश्रम रेलवे ट्रेक पर मिला युवक का शव, मध्यप्रदेश का छात्र उदयपुर के पेसिफिक कॉलेज से कर रहा था बीटेक की पढ़ाई

btech-student-sucide-udaipurसेवाश्रम रेलवे ट्रेक पर सुबह-सुबह युवक का शव मिलने से सनसनी फैल गई। रेलवे ट्रेक पर शव मिलने की सूचना पर पुलिस पहुंची मौके पर पहुची। पुलिस ने मृतक की शिनाख्त मध्यप्रदेश निवासी राहुल धाकड़ के रूप में की।

राहुल धाकड़ मध्यप्रदेश का रहनेवाला था और यहां पेसिफिक कॉलेज से बीटेक की पढाई कर रहा था और वह डोरेनगर में रहता था। पास ही सेवाश्रम रेलवे ट्रेक पर शव मिलने की सुचना के बाद लोगों की भीड़ जमा हो गई।

पुलिस ने बताया कि छात्र उसके गांव से गुरूवार को ही आया था। अपने रूम से वह देर शाम को निकला था और शुक्रवार सुबह उसकी लाश रेलवे ट्रेक पर मिली। युवक की आत्महत्या के कारणों का अब तक खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस ने मृतक राहुल के परिजनों को सूचित कर दिया।

पिकनिक मना कर लौट रहे यात्रियों की फंसी जान

देवगढ़/राजसमंद। मारवाड़ से गोरमघाट होते हुए मावली आने वाली मीटर गेज ट्रेन का इंजन मंगलवार शाम को चढ़ाई पर फ़ैल हो गया। हरियाली अमावस्या और छुट्टी होने के कारण यात्रियों की सुविधा के लिए ट्रेन में चार की जगह छह डिब्बे लगाए गए थे।

MAVLI-MARWAR-METER-GAUGE-TRAIN

यात्री भार ज्यादा होने से हांफ गई ट्रेन

इस ट्रेन के छः डिब्बों में करीब पंद्रह सौ लोग गोरमघाट में पिकनिक मनाकर लौट रहे थे। यात्री भार ज्यादा होने से इंजन गुफा से पहले पड़ने वाली करीब सौ मीटर की चढ़ाई के शुरुआती पड़ाव पर ही हांफने लगा और गोरमघाट के घाटे के 38 बाई 4 चढ़ाई पर पहली गुफा पार करते समय अटक गई। टनल में ट्रेन रुकते ही लोगों का शोर मच गया। इंजन का काला धुआं टनल में घुटने लग गया और लोग घबरा गए।